भारतीय सामान्य ज्ञान एवं सामान्य विज्ञान/ GENERAL KNOWLEDGE AND GENERAL SCIENCE



भारतीय सामान्य ज्ञान एवं सामान्य विज्ञान/


GENERAL KNOWLEDGE AND GENERAL SCIENCE

INDIAN G.K PART 2
1- बंकिमचन्द्र चटर्जी के उपन्यास आनन्द मठ में सन्थाल विद्रोह के बारे में वर्णन है।

2- बंगाल का प्रथम गवर्नर लार्र्र्ड क्लाइव तथा अंतिम गवर्नर वारेन हेस्टिगं था।

3- भारत का प्रथम वायसराय लार्ड कैनिंग तथा अंतिम वायसराय लार्ड माउन्टबैटन था।

4- भारत का प्रथम भारतीय गवर्रन जनरल सी. राजगोपालाचारी थे।

5- औरंगजेब के पुत्र मुअन्जम को शाह बेखबर कहा जाता था।

6- हैदरअली ने 1761 ई. नन्दराज को गद्दी से उतार कर अपना राज्य मैसूर पर स्थापित किया।

7- रूहेलखण्ड की स्थापना का श्रेय अली मुहम्मद खां को जाता है।

8- सिख्खों को सैनिक तथा लड़ाकू समुदाय के रूप में परिवर्तित करने वाले गुरू हर गोविन्द थे।

9- अमृतसर स्थित अकाल तख्त का निर्माण गुरू हरगोविन्द ने करवाया था।

10- सिख्ख मिसलों को संगठित कर पंजाब राज्य की स्थापाना रणजीतसिंह ने की थी।

11- 1857 ई. के विद्रोह के दमन के दौरान अंग्रेज अधिकारी नील ने कानपुर में मृत ब्राहम्णों को जमीन में दफनाया व मुस्लिमों को जलवा दिया ।

12- राजस्थान में विद्रोह में प्रमुख स्थल कोटा व आउवा थे।

13- बुन्देलखण्ड में झांसी की रानी लक्ष्मीबाई ने विद्रोह का नेतृत्व किया था।

14- मैकाले गवर्नर जनरल परषिद का प्रथम कानूनी सदस्य था।

15- सतेन्द्र प्रसन्ना सिन्हा गवर्नर जनरल की कार्यकारणी परिषद के लिये चुने जाने वाले प्रथम भारतीय थे।

16- 1919 ई. के माण्टेग्यू चेम्सफोर्ड सुधारों के तहत सर्वप्रथम प्रत्यक्ष चुनाव हुये।

17- 1909 ई. के मिण्टोमार्ले सुधारों मे पृथक साम्प्रदायिक प्रतिनिधित्व की स्थापना की गई।

18- भारतीय रिर्जव बैंक की स्थापना 1935 ई. मे ंकी गई थी।

19- 1919 ई. के सुधारों द्वारा प्रान्तों में द्वैध शासन व्यवस्था लागू की गई।

20- 1935 ई. के सुधारों में प्रान्तीय स्वायत्ता शासन की स्थापना की गई।

21- 1922 ई. मे अमृतलाल बिठल दास ने भील सेवा मण्डल की स्थापना की।

22- ज्योतिबा फूले महराष्ट्र में विधवा पुनविवाह के अग्रदूत थे।

23- ईश्वर चन्द्र विद्याासागर के प्रयासों ंके फलस्वरूप 1856 ई. में विद्यावा पुनर्विवाह कानून बनाया गया।



24- काशीराम व लाल हरदयाल गदर पार्टी के प्रमुख सदस्य थे।

25- 1913 ई. में अमेरिका के सेन फ्रसिस्कों नगर में पंजाब के क्रान्तिकारी लाल हरदयालने गदर पार्टी की स्थापना की।


26- 1912 ई. में भारत की राजधानी कलकत्ताा से दिल्ली स्थानान्तरित की गई।



27- वन्देमातरम की रचना बंगला साहित्याकार बंकिमचन्द्र ने की थी।

28- 1875 ई. शिशिर घोष ने इण्डियन लीग की स्थापना की।

29- महाराष्ट्र में भारत सेवक समाज गोपाल कृष्ण गोखले द्वारा स्थापित किया गया।

30- लार्ड कर्जन के समय 1905 ई. में बंगाल का विभाजन किया गया तथा लार्र्ड हार्डिग के समय 1911 में विभाजन रद्द कर दिया गया था।


31- 1867 ई. में आत्माराम पाण्डुरंग ने प्रार्थना समाज की स्थापना की।

32- राजा राममोहन राय ने कलकत्ताा में वेदान्त कॉलेज, इंगलिश स्कूल तथा हिन्दू कॉलेज की स्थापना की।

33- आदि ब्रह्वा समाज की स्थापना महर्षि देवेन्द्र नाथा ठाकुर द्वारा तथा भारतीय ब्रह्वा समाज की स्थापना केशवचन्द्र सेन ने की।


34- 1874 ई. में दयानन्द सरस्वती ने अपने प्रसिध्द ग्रन्थ सत्यार्थ प्रकाश की रचना की।

35- भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस का प्रथम अधिवेशन बम्बई में हुआ व उसकी अध्यक्षता डब्ल्यु सी बैनर्जी ने की।

36- इन्कालाब जिन्दाबाद का नारा भगत सिंह ने दिया था।

37- 1906 ई. में आगा खां ने अंगल इण्डिया मुस्लिम लीग की स्थापना की थी।

38- 1910 ई. में बाल गंगाधर तिलक ने होमरूल लीग की स्थापना की।

39- बादरोली सत्याग्रह सरदार पटेल के नेतत्व में 1927 ई. में हुआ।

40- स्वराज दल की स्थापना 1922 ई. में मोतीलाल नेहरू तथ देशबन्धु चितरन्जन दास ने की।

41- खिलाफत आन्दोलन में हिन्दुओं ने मुसलमानों का साथ दिया 31 अगस्त 1919 ई. को खिलाफत दिवस मनाया गया।


42- 1929 ई. में पण्डित जवाहरलाल नेहरू की अध्यक्ष्ता में हुये सम्मेलन में स्वराज्य का अर्थ पूर्ण स्वतन्त्रता घोषित किया गया।

43- तिलक द्वारा 1893 ई. में गणपति महोत्सव तथा 1895 ई. में शिवाजी समारोह प्रारम्भ किये गये।

44- तिलक ने दो समाचार पत्र मराठी अग्रेंजी भाषा में तथा केसरी मराठी भाषा में प्रकाशित किया।

45- 1 जनवरी 1857 ई. में ब्रिटिश निर्मित एनफील्ड राइफल का प्रयोग भारत में किया गया। ऐसा माना जाता था कि इस राइफल में प्रयुक्त होने वाले कारतुसों में गाय व सुअर की चर्बी प्रयुक्त की गई।

46- मार्च 1857 ई. में बैरकपुर छावनी के सिपाहियों ने इन चर्बीवाले करतूसों का प्रयोग करने से मना कर दिया था।

47- वर्तमान में पाकिस्तान के सिन्ध प्रान्त के लरकाना जिले में स्थित मोहनजोदड़ो को सन् 1922 ई में किसने खोजा था। उत्तर :- डॉ. आर. डी. बनर्जी ने

48- सिन्धु घाटी सभ्यता का सबसे नवीन स्थान है। उत्तर :- कुरूक्षैत्र (हरियाणा)

49- सिन्धु घाटी युग में धूप में सुखायी ईटों के बजाय चूना तथा मंहगी पकायी हुई ईटों का लोगों द्वारा प्रयोग क्या प्रमाणित करता है। उत्तर :- नदी घाटीयों में बसावट के कारण नदी घाटीयों में बसावट के कारण


50- सिन्धु घाटी सभ्यता में चावल के प्रयोग का साक्ष्य कहाँ प्राप्त हुआ। उत्तर :- रंगपुर

51- कौनसी आकृती हड़प्पा काल के भारतीय अवशेषों में सर्वाधिक है। उत्तर :- माथे पर सींगदार बैल

52- सिन्धु घाटी सभ्यता के संभावित निर्माता थे। उत्तर :- द्रविड़ अथवा भू-मध्यसागर क्षैत्र वासियों की भाषा द्रविड़ थी ऐसा अनेक भाषा विदों का मत है।


53- आर्य शब्द किसका वाचक है। उत्तर :- संस्कृति या सुसंस्कृत

54- वैदिक कालीन आर्यों को निन्म में से किसका भौगोलिक ज्ञान नहीं था। उत्तर :- कृष्णा का घाटी से आगे का दक्षिणी प्रदेश


55- उत्तर वैदिक काल में आर्यो की गतिविधि का केन्द्र था। उत्तर :- यमुना के पश्चिमी बंगाल तक का प्रदेश

56- भारत में आर्यो के धर्मग्रन्थ में सर्वोपरि महत्तव किसको दिया गया है। उत्तर :- वेद

57- कौनसा वेद गद्य तथा पद्य दोनों में है। उत्तर :- यजुर्वेद

58- वेदांग कितने है। उत्तर :- छ:

59- गायत्री मंत्र में किस देवता से प्रार्थना की गई है। उत्तर :- सवितृ

60- वैदिक धर्म में बहुदेववाद किसकी देन है। उत्तर :- ग्रीस तथा रोम की देन है

61- समाज के वर्ण विभाग का स्पष्ट उल्लेख सर्व प्रथम किसमें है। उत्तर :- ऋगवेद के हिरण्य गर्भ सूक्त में

62- वैदिक आर्यो के सम्माननिय अतिथि को गोन्ध कहते थे। गोन्ध का अर्थ होता है। उत्तर :- जो इन्द्रियों का नियन्त्रण करने वाला हो


63- संगम युग में मन्त्री का तमिल नाम क्या था। उत्तर :- सुर्रम

64- संगम युग में लोकप्रिय देवता था। उत्तर :- विष्णु

65- बुध्द का जन्म स्थान कौनसा है। उत्तर :- लुन्बिनी

66- बुध्द की पत्नि का नाम था। उत्तर :- यशोधरा

67- गृह त्याग के बाद बुध्द के प्रथम गुरूद्वय कौन थे। उत्तर :- अलार और उद्रक

68- बुध्द ने कर्मवाद को किस रूप में प्रयुक्त किया था। उत्तर :- इस रूप में कि मनुष्य के कर्म उसके जीवन को निर्धारित अवश्य करते है, परन्तु अपने पूर्व जन्मों के कर्मफल की अपेक्षा मनुष्य कर्म करने में स्वाधीन है।


69- बुध्द का अर्थ क्या है। उत्तर :- जिसे बोध (ज्ञान) हो गया हो

70- ईश्वर क अस्तित्व के विषय में बुध्द के विचार कैसे थे। उत्तर :- ईश्वरवादी

71- बौध्दमत के दो प्रमुख सम्प्रदाय कौनसे है। उत्तर :- हीनयान और महायान

72- भारत के किस भाग में सर्व विस्तारवादी सम्प्रदाय मुख्यत: फैला और बढ़ा । उत्तर :- उत्तारी भाग

73- हर्ष के काल के बाद की सदी में पल्लव वंश के राजाओं के संरक्षण से पूर्वी भारत में बौध्दमत का प्रबल पुनर्जागरण हुआ था। कौन-कौन से बौध्दविहार इस काल में बने। उत्तर :- सोमपुरी, उदन्तपुरी, और विक्रमशिला


74- बौध्दमत को राजकीय संरक्षण प्रदान करने वाला पहला सम्राट कौन था। उत्तर :- अशोक

75- भारत में अधिसंख्य बौध्द गुफाएं किस भाग में स्थित है। उत्तर :- पश्चिमी महाराष्ट्र

76- जैनमत का आद्य प्रवर्तक किसको माना जाता है। उत्तर :- ऋषभदेव

77- महावीर का पूरा नाम वर्धमान महावीर था। उनका जन्म स्थान कौनसा है। उत्तर :- कुण्डग्राम

78- ब्राह्वाणमत का कौनसा विचार भगवतमत ने अंगीकार नही किया था। उत्तर :- कर्मकाण्ड के अनुष्ठान से ही देवताओं को प्रसन्न किया जा सकता है।

79- मोर्य साम्राज्य का आद्य संस्थापक था। उत्तर :- चन्द्रगुप्त

80- नन्द वंश के सम्राट किस वंश के थे। उत्तर :- शूद्र

81- चन्द्र गुप्त के राजनैतिक गुरू कौन था। उत्तर :- चाणक्य

82- चन्द्रगुप्त के दरबार में पहला यूनानी राजदूत कौन था। उत्तर :- मेगस्थनीज

83- बिन्दुसार का ज्येष्ठ पुत्र कौन था। उत्तर :- सुसीम

84- मौर्यकालीन शिल्प कला के सर्वश्रेष्ठ नमूने कौनसे है। उत्तर :- स्तम्भ

85- सारनाथ के स्तम्भ के नीचे कौन कौन से पशु अंकित है। उत्तर :-सिंह, घोड़ा, बैल और हाथी

86- गुप्तकालीन थल मार्गो का विशद वर्णन ‘सार्थवाह’ नामक पुस्तक में किया गया है, इसके लेखक कौन है। उत्तर :- जदुनाथ सरकार

87- गुप्तकाल में कागज नही था। लिखने के लिए किस वस्तु का प्रयोग होता था। उत्तर :- भोज पत्र

88- बाह्वाणों और बौध्दभिक्षुओं को भूमिदान की प्रथा किसने चलाई जिसमें वित्ताीय तथा प्रशासनिक अधिकारी भी साथ में दे दिये जाते थे। उत्तर :- सातवाहन वंश

89- पूर्व काल में भारत में केसर की खेती की जाती थी कहाँ पर उत्तर :- हिमालय की तराई में

90- ब्राह्वाण द्वारा शुद्र कन्या से उत्पन्न सन्तान की जाति क्या मानी जाती थी। उत्तर :- निषाद

91- ब्राह्वाण पुरूष तथा ब्राह्वाण स्त्री की अवैध सन्तान क्या मानी जाती थी। उत्तर :- शूद्र

92- कन्नौज पर सर्वप्रथम अपना वर्चस्व स्थापित करने वाला राजा कौन था। उत्तर :- वत्सराज (प्रतिहार)

93- पालवंश की राजधानी कौनसी थी। उत्तर :- पाटलीपुत्र

94- राष्ट्रकूट राज्य की राजधानी कौनसी थी। उत्तर :- मालखेड

95- महमूद गजनवी ने 1008 ई में किस प्रमुख हिन्दु नरेश को परास्त किया था। उत्तर :- शाहीवंश के 
आनन्दपाल को

96- पृथ्वीराज से मुहम्मद गौरी का निर्णायक युध्द कहाँ पर हुआ था। उत्तर :- तराइन के मैदान में 1192 ई. में

97- तैमूर लंग के भारत पर आक्रमण के समय दिल्ली का सुल्तान कौन था। उत्तर :- नासिरूद्दीन महमूद तुगलक

98- लोदी वंश में सर्वश्रेष्ठ प्रतापी सुल्तान कौन हुआ। उत्तर :- सिकन्दर लोदी

99- किस सुल्तान के संरक्षण में महाभारत का बंगाल में अनुवाद किया गया। उत्तर :- नासिरूद्दीन नसरतशाह

100- उड़ीसा राज्य का संस्थापक नरेश कौन था। उत्तर :- अनन्तवर्मन


भारतीय सामान्य ज्ञान एवं सामान्य विज्ञान

GENERAL KNOWLEDGE AND GENERAL SCIENCE

INDIAN G.K PART 1

1- मौर्य साम्राज्य के नगरीय प्रशासन में एक मण्डल होता था, जिसमें 30 सदस्य होते थे, मण्डल समितियों में विभाजित था, समितियों की संख्या क्या थी। उत्तर :-छ:

2- मौर्योत्तार काल में अधिकांश शिल्पी किस जाति के थे। उत्तर :-शूद्र जाति के

3- ऋग्वैदकाल में ‘ईशान’ नाम से सम्बोधित किया जाता था। उत्तर :- समिति के सभापति का

4- गुप्तवंश का वह कौन शासक था, जिसने अपनी पुत्री का विवाह वाकाटक के शासक रूद्रसेन से किया था। उत्तर :-चन्द्रगुप्त द्वितीय विक्रमादित्य


5- सल्तनत काल में स्वतन्त्र कृषि विभाग की स्थापना किस सुल्तान ने की थी। उत्तर :- मुहम्मद तुगलक

6- विजय नगर साम्राज्य का तुलुववंशीय शासक कृष्णदेव राय ने किस प्रसिध्द ग्रन्थ की रचना की थी। उत्तर :- अमुक्त माल्यद

7- अकबर ने जजिया नामक कर (गैर मुस्लिम जनता से व्यक्ति कर के रूप में वसूला जाता था) किस वर्ष बाद बन्द करवाया। उत्तर :- 1564 ई. में


8- मुगलकाल में धार्मिक प्रवृति के व्यक्ति की अनुदान के रूप में दी जाने वाली भूमि को कहा जाता था। उत्तर :- मदद-ए-माश

9- जहाँगीर ने किस चित्रकार को ‘नादिर-अल-उस’ की उपाधि दी थी। उत्तर :-उस्ताद मंसुर को (यह दुर्लभ पशुओं एवं विरले पक्षियों तथा अनोखे पुष्पों का चित्रकार था)


10- मोहम्मद सालेह द्वारा रचित किस ग्रन्थ में शाहजहाँ के अन्तिम दो वर्षो की जानकारी मिलती है। उत्तर :- अमल-ए-सालेह

11- उत्खनन में लोथल से हाथी दाँत निर्मित एक पैमाना प्राप्त हुआ है। जिसका प्रयोग लम्बाई नापने के लिये किया जाता होगा।

12- सिन्धुवासियों को लोहे का ज्ञान नहीं था। कृष्ण अयस लोहे को कहा जाता था।

13- सिन्धु सभ्यता में नीले रंग का साक्ष्य कहीं नहीं था।

14- कपास की सर्वप्रथम खेती सिन्धु निवासियों ने की थी। अत: यूनानियों ने उसे सिन्डन नाम दिया था।

15- हड़प्पा की अर्थव्यवस्था का मूल आधार कृषि था।

16- सम्भवत: ‘स्वास्तिक’ चिन्ह हड़प्पा सभ्यता की देन है।

17- हड़प्पा सभ्यता काँस्य युगीन सभ्यता है।

18- सैन्धव लोगों को अश्व की जानकारी नहीं थी।

19- 1935 ई.में चन्हूदड़ों नामक नगर की खुदाई अर्नेस्ट मैके के नेतृत्व में की गई।

20- अग्निकूण्ड लोथल एवं कालीबंगा से प्राप्त हुए थे।

21- ऋग्वेद में मछली का नाम नहीं मिलता है।

22- बैदिक लोगों ने सर्वप्रथम तांबे का प्रयोग किया था।

23- ऋग्वेद में केवल एक ही धातु अयस का वर्णन है। सम्भवत: यह कांसा था।

24- ऋग्वेद में सर्वाधिक स्तुति इन्द्र की हुई है।

25- ऋग्वेद के दो ब्राहम्ण है। ऐतरेय एवं कौशीतकी।

26- दिल्ली तथा दोआब का उत्तारी भाग कुरूदेश कहलाता है।

27- यजुर्वेद का प्रमुख देवता प्रजापती है।

28- तीन आश्रमों का वर्णन हमें दान्दोग्य उपनिषद में मिलता है। चारों आश्रमों का सर्वप्रथम विवरण जबाला उपनिषद में मिलता है।


29- महात्मा बुध्द को तथागत तथा शक्य मुनि के नाम से भी जाना जाता है।

30- महात्मा बुध्द का प्रथम उपदेश धर्म चाक्रप्रवर्तन कहलाता है।

31- कैवल्य वह पूर्ण ज्ञान है जो निर्ग्रन्थों को प्राप्त होता है।

32- जैन धर्म में वर्णित त्रिरत्न 1 सम्यक श्रध्दा 2 सम्यक ज्ञान 3 सम्यक आचरण है।

33- महावीर स्वामी का प्रथम सहयोगी गोशाल था।

34- जैन धर्म के ग्रन्थ प्राकृत भाषा में लिखे गये है।

35- द्रविड़ वैष्णव भक्त आलावर कहलाते थे।

36- जूनागढ़ स्थित सुदर्शन झील का निर्माण चन्द्रगुप्त मौर्य ने करवाया था।

37- पुराणों की कुल संख्या अठारह मानी गई है।

38- सिकन्दर के आक्रमण के समय मगध का शासन धननन्द के हाथों में था।

39- अशोक को बौध्द धर्म में दीक्षित करने का श्रेय बौध्द भिक्षु उपगुप्त को प्राप्त है।

40- अशोक के अधिकतर शिलालेखों की लिपि ब्राहम्ी है। परन्तु अपवादस्वरूप अभिलेख भी है, उदारणतया शहबाजगाढ़ी-खरोष्ठि, मानससेहरा-खरोष्ठि, गान्धार-यूनानी।

41- प्राचीन काल में प्रमुख शिक्षा केन्द्र नालन्दा के अवशेष बिहार राज्य में मिले है।

42- महाभारत के भीष्म पर्व में सर्वप्रथम भागवत धर्म का उल्लेख किया गया है।

43- महात्मा बुध्द को महानिर्वाण कुशीनगर में प्राप्त हुआ था।

44- बौध्द साहित्य मुख्य रूप से पाली भाषा में लिखा गया है।

45- अजन्ता की गुफांए महाराष्ट्र में स्थित है।

46- लोथल में ईटों से बना पक्का नौका घाट मिला है, खम्भात की खाड़ी से नहर द्वारा जुड़ा हुआ था।ण्

47- महाबलीपुरम के रथ मन्दिरों का निर्माण नहरसिंह वर्मन प्रथम ने करवाया था।

48- प्राचीन काल में पूर्वी तट पर स्थित ताम्रलिपि नामक बन्दरगाह से सुमात्रा जावा चीन आदी से व्यापार होता था।


49- आगरा नगर की स्थापना सिकन्दर लोदी ने की थी।

50- अयुर्वेद का विद्वान एवं चिकित्सक धन्वंतरि चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य के दरबार में था।

51- याज्ञवल्क्य ने सर्वप्रथम स्त्रियों के सम्पत्तिा सम्बन्धी अधिकारों की वकालत की थी।

52- बृहस्पति एवं नारद ने कन्या को पुत्र के समान माना था।

53- विजय नगर राज्य में क्षत्रिय वर्ग नहीं था।

54- कालिकट विजय नगर का प्रमुख बन्दरगाह था।

55- मध्य एशिया और चीन में धर्म प्रचार का श्रेय कनिष्क को था।

56- कनिष्क के सिक्कों पर बौध्द चिन्ह अंकित था।

57- कुषाण राजाओं को देवपुत्र कहा गया है।

58- नालन्दा विश्वविद्यालय की स्थापना कुमारगुप्त ने की थी। इस विश्वविद्यालय को ऑक्सफोर्ड ऑफ महायान बौध्द कहा जाता है। इस विश्वविद्यालय को 12 वीं शताब्दी में मुहम्मद गौरी के सेनापति मुहम्मद बिन बख्तियार खिलजी ने नष्ट कर दिया था।


59- खिलजी शासक अफगान न हो कर तुर्क थे।

60- इक्ता भूमि का वह डुकड़ा था, जो राजकीय अधिकारियों को उनके नकद वेतन के एवज में दिया जाता था। इस भुमि से हाने वाली आय उस अधिकारी के वेतन के बराबर होती थी।

61- खालसा भूमि का सुल्तान की भूमि को कहते थे। उससे होने वाली आय सुल्तान के लिये सुरक्षित थी।

62- सिकन्दर लोदी ने अपनी राजधानी दिल्ली से हटाकर आगरा को बना ली थी।

63- अलाउद्दीन प्रथम दिल्ली सुल्तान था जिसने भूमि कर के निर्धारण के लिये भूमि की माप प्रारम्भ की।

64- अलाउद्दीन प्रथम दिल्ली सुल्तान था जिसने प्रशासनिक एवं राजनैतिक मामलों में उलमाओं की उपेक्षा की।

65- मंगोलों का नेता चंगेज खाँ स्वयं को ईश्वर का अभिशाप कहता था।

66- अनेक विजयों को प्राप्त कर अलाउद्दीन खिलजी ने सिकन्दर द्वितीय की उपाधि ग्रहण की।

67- जियाउद्दीन बरनी ने फतवा-ए-जहाँदारी तथा तारीख-ए-फिरोजशाही नामक ग्रन्थों की रचना फिरोज शाह तुगलक के काल में की थी।


68- कुरान के नियमानुसार फिरोज शाह तुगलक ने केवल चार कर – खराज,खम्स ,जजिया और जकात लागू किये थे।

69- बलबन प्रथम सुल्तान था। जिसने पृथक सैन्य विभाग की स्थापना की थी।

70- जौहर का विवरण प्रथम विवरण अमीर खुसरो ने 1301 ई. में दिया है।

71- सिक्खों के पांचवें गुरू अर्जुन देव ने गुरू ग्रन्थ साहिब के संकलन में गुरू नानक की रचनाओं को व्यवस्थित रूप प्रदान किया था।


72- बाबर ने भारत में तुलुगुमा युध्द पध्दिति का प्रयोग किया था।

73- बाबर ने चन्देरी के युध्द को जिहाद घोषित किया और युध्द के बाद राजपूतों के सिरों की मीनार बनवायी ।

74- पानीपत के युध्द में बाबर ने प्रथम बार तोपखने का प्रयोग किया था।

75- बाबर की पुत्री गुलबदन बेगम ने हुमायूँनामा में बाबर की विशेषताओं का वर्णन किया है।

76- बाबर ने तुर्की भाषा में अपनी आत्मकथा तुजुके बाबरी लिखी थी।

77- 1562 ई. में अकबर ने दास प्रथा को समाप्त कर दिया था।

78- अकबर ने दीन-ए-ईलाही धर्म चलाया था।

79- अकबर ने फतेहपुर सीकरी में इबादतखाना बनवाया जहां प्रत्येक गुरूवार को धार्मिक विषयों पर विचार विर्मिश किया जाता था।


80- अकबर में मुजफ्फरखां को प्रथम वजीर नियुक्त किया था।

81- मुगल काल में जात का तात्पर्य सैनिकों की उस निश्चित संख्या से था जो मनसबदारों को अपने यहां रखनी पड़ता थी।

82- अकबर के शासन काल में इब्राहिम सरहिन्दी ने अथर्ववेद का फारसी में अनुवाद किया तथा अबुल फजल ने पंचतत्रं का फारसी में अनुवाद किया था।


83- मुगल काल में परगने की मालगुजारी वसूल करने वाले को आमिल कहते थे।

84- अकबर के शासन काल की पहली इमारत दिल्ली स्थित हुमायुँ का मकबरा थी जो उसकी सौतेली मां हाजी बेगम की देखरेख में बना था।


85- अकबर की भूराजस्व व्यवस्था का प्रमुख प्रवर्तक टोडरमल था जो शेरशाह सूरी के भूमि सुधारों का भी प्रर्वतक था।


86- जहांगीर ने अपने सिक्कों पर अपनी आकृति अंकित करवाई।

87- रज्मनामा महाभारत का फारसी अनुवाद था जो नकीब खां बदायूंनी तथा फौजी ने किया था।

88- औरंगजैब के दरबार में संगीत पर प्रतिबन्ध लगा देने के बावजूद संगीत पर सबसे अधिक पुस्तकें उसी के काल में लिखी गयी।


89- अंग्रेज राजदूत सर टामसरो जहांगीर के शासन काल में भारत आया।

90- औरंगजेब ने हिन्दुआें पर पुन: जजिया कर लगाया।

91- हुमायुं के मकबरे का निर्माण करने वाला प्रधान कारीगर ईरान निवासी मीरक मिर्जा ग्यास था।

92- अरजुमन्द बानो बेगम को मलिक -ए-जमानी की उपाधि प्रदान की गई थी।

93- 1608 ई. में कप्तान हाकिन्स के नेतृत्व मे प्रथम अंग्रेजी जहाज भारत पहुंचा।

94- 1717 ई. में मुगल सम्राट फार्रूखसियर ने एक फरमान द्वारा अंग्रेजों को भारत में व्यापारिक अधिकार दिये।


95- अकबर ने 1580 ई. में भू-राजस्व निर्धिरित करने के लिये दहशाला प्रणाली आरम्भ की थी।

96- नलदमयन्ती तथा लीलावती का संस्कत से फारसी अनुवाद फौजी ने किया।

97- शिवाजी मराठी को राज भाषा बनाया।

98- फार्रूखसियर की मृत्यु के बाद 1719 ई. जजिया पुन: हटा दिया गया।

99- जाट नेता सूरजमल को उसकी सूक्ष्म बुध्दि तथा चतुराई के कारण जाटों का अफलातून कहा जाता है।

100- नील दर्पण दीनबन्धु मित्र द्वारा लिखा गया जिसमें नील की खेती करने वाले कृषकों की दयनीय दशा का वर्णन है।

About trn

arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab arab v

Posted on April 12, 2011, in Quiz. Bookmark the permalink. Leave a comment.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: